कोरोना हेतु वैक्सीन भारत में अगस्त तक तैयार होने की उम्मीद

May 12, 2020

 

सीएम-पीएम वीडियो कांफ्रेंस में तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने प्रधानमंत्री मोदी को बताया की आगामी जुलाई-अगस्त तक हैदराबाद में कोविड-19 की वैक्सीन तैयार होने की पूर्ण सम्भावना है। बीते सोमवार को पीएम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई बातचीत में इस बात की जानकारी दी।  तेलंगाना मुख्यमंत्री कार्यालय की जारी विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री राव ने प्रधानमंत्री को सम्बोधन में कहा, 'कोरोना वायरस के लिए वैक्सीन तैयार करने का प्रयास किया जा रहा है। एक संभावना है कि वैक्सीन हमारे देश में ही तैयार हो जाएगी। हैदराबाद में कंपनियां इसके लिए काफी मेहनत कर रही हैं। इस बात की संभावना है कि हैदराबाद में वैक्सीन को जुलाई-अगस्त तक तैयार कर लिया जाएगा। यदि वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी तो यह परिस्थिति को बदलने में सहायक होगी।'


 

उल्लेखनीय है कि भारत बायोटेक ने हाल ही में सीएम को अवगत कराया है कि कोविड-19 वैक्सीन पर काम प्रगति पर है। कुछ अन्य कंपनियां भी इसी तरह की कवायद में लगी हुई हैं। हालांकि सीएम राव ने प्रधानमंत्री को ट्रेनों को फिर से संचालित नहीं करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि ट्रेनों के संचालन से वायरस फैलने का खतरा है, क्योंकि हो सकता है कुछ यात्री संक्रमित हो या उनमें वायरस के हल्के लक्षण हो। सीएम ने बैठक में कहा कि कोरोना वायरस का प्रभाव ज्यादातर देश के मुख्य शहरों में देखने को मिला है। जिनमें, दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और हैदराबाद जैसे शहर शामिल हैं। कोविड-19 मरीजों की सबसे ज्यादा संख्या इन्हीं शहरों में हैं। आगे उन्होंने कहा कि इस तरह, यदि ट्रेनों का संचालन होता है तो यहां से लोगों का एक जगह से दूसरी जगह आवागमन होगा, जो वायरस के खतरे को दावत देने जैसा है। यह संभव नहीं है हर किसी की जांच की जाए। साथ ही ट्रेन में यात्रा करने वाले हर व्यक्ति को क्वारंटीन में रखना भी संभव नहीं है। इस तरह यात्री ट्रेनों का संचालन नहीं होना चाहिए। 
 

Share on Facebook
Share on Twitter
Please reload