रतलाम जिले में दस लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

जहरीली शराब से मौत की आशंका, लेकिन प्रशासन को कोरोना का संदेह, नहीं हुआ मृतकों का पोस्टमार्टम 

 

 

जिले में अलग अलग स्थानों पर दस व्यक्तियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई,जबकि दो लोगों की स्थिति गंभीर बताई गई है। एक पीड़ित को आँखों से दिखना बन्द होने की शिकायत हैं । सभी दस लोगों की मौत के पीछे जहरीली शराब को कारण माना जा रहा हैैं लेकिन प्रशासन ने कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इन मृतकों का पोस्टमार्टम भी नहीं करवाया गया है, एवं इनमें से कई मृतकों को कोरोना संदिग्ध मानकर उनके सैम्पल लिए गए है।

 

अब तक सामने आई जानकारी के मुताबिक पप्पू उर्फ प्रहलाद नि.गांधीनगर रतलाम,जयसिंह पिता रतनलाल नि.भदवासा,अर्जुन पिता भेरुलाल कालबेलिया नि.भदवासा,जयसिंह पिता अर्जुन,ऋतुराज सिंह पिता रघुनाथ सिंह 40 नि.नामली,रमेश पिता विज्या खराडी नि.चीलर राजेन्द्र सिंह पिता माधवसिंह नि.सनावदा और भेरु पिता नन्दू जी नि.जावरा की शराब पीने के बाद मौत हो गई। इसके अलावा नामली में दो व्यक्ति यशवन्त और प्रताप की भी शराब पीने के बाद मौत हो गई। मृत पप्पू और ऋतुराज सिंह के साथ ही शराब पीने वाले पंचम सिंह पिता सुखदेव सिंह 40 नि.पंचेड की स्थिति बेहद गंभीर है। बताया जाता है कि जहरीली शराब के कारण उसकी आंखे खराब हो गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जावरा के दो व्यक्तियों की स्थिति भी शराब पीने के बाद गंभीर बनी हुई है। पुलिस सूत्रों के अनुसार पप्पू उर्फ प्रहलाद,ऋतुराज सिंह और अर्जुन पिता भेरुलाल तथा एक अन्य मृतक को जिला अस्पताल लाया गया था,जहां इनकी मृत्यु हो गई। इन सभी ने मौत के पहले शराब का सेवन किया था, लेकिन जिला चिकित्सालय में मृत्यु होने के पश्चात इन सभी को कोरोना संदिग्ध माना गया और प्रोटोकाल के मुताबिक इनका अंतिम संस्कार करवा दिया गया। इन मृतकों का पोस्टमार्टम नहीं करवाया गया। हांलाकि प्रशासनिक स्तर पर इन लोगों की मृत्यु के कारण स्पष्ट नहीं किए गए हैैं।

 

जहरीली शराब हो सकती है मौत का कारण

 

लॉक डाउन में शराब की दुकानें बन्द होने के कारण पूरे क्षेत्र में अवैध शराब की बिक्री जोरों पर है। जिले में अधिकांश ग्रामों में ठेके और दुकान बंद होने पर भी चारगुने दामों पर डायरी सिस्टम से शराब बिकने की खबरे आ रही है। अंततः कहा जा सकता है कि पुलिस और आबकारी विभाग में तालमेल ना होने से ये भयावह हादसा हुआ है और दस व्यक्तियों की मौत हो गयी है। खबर लिखे जाने तक पुलिस और जिला प्रशासन की ओर से कोई अधिकृत वक्तव्य जारी नहीं किया गया है। 
 

Share on Facebook
Share on Twitter
Please reload