IIT दिल्ली ने बनाई प्रोब फ्री COVID-19 किट, ICMR ने भी दी मंजूरी

April 24, 2020

 

IIT दिल्ली कुसुमा स्कूल ऑफ बायोलॉजिकल साइंसेज (KSBS) के शोधकर्ताओं ने COVID-19 के लिए एक परीक्षण किट विकसित की है. गुरुवार को संस्थान द्वारा जारी एक बयान के अनुसार आईआईटी के इस इनोवेशन को अब COVID-19 परीक्षण के लिए नोडल निकाय ICMR द्वारा अनुमोदित किया गया है. विज्ञप्ति में कहा गया है कि परख (परीक्षण किट) को आईसीएमआर में 100% की संवेदनशीलता और विशिष्टता के साथ मान्य किया गया है. आईआईटीडी पहला शैक्षणिक संस्थान है जिसने रियल टाइम पीसीआर-आधारित डायग्नोस्ट‍िक ​​परख के लिए आईसीएमआर से अनुमोदन प्राप्त किया है.

 

आईटी दिल्ली के इस इनोवेशन टीम में प्रशांत प्रधान (पीएचडी स्कॉलर), आशुतोष पांडे (पीएचडी स्कॉलर), प्रवीण त्रिपाठी (पीएचडी स्कॉलर), डॉ। अखिलेश मिश्रा, डॉ पारुल गुप्ता, डॉ सोनम धमीजा, प्रो विवेकानंदन पेरुमल, प्रो मनोज शामिल हैं. इसके अलावा इस टीम में प्रो बिस्वजीत कुंडू और प्रो जेम्स गोम्स आदि का नाम भी शामिल है.

 

IIT दिल्ली की टीम ने तुलनात्मक अनुक्रम विश्लेषणों (comparative sequence analyses) का उपयोग करते हुए COVID-19 / SARS COV-2 जीनोम में अद्वितीय क्षेत्रों (RNA अनुक्रमों के छोटे हिस्सों) की पहचान की. ये क्षेत्र विशेष रूप से COVID -19 का पता लगाने का अवसर प्रदान करने वाले अन्य ह्यूमन कोरोना वायरस में मौजूद नहीं हैं.

इस विधि में COVID-19 के यूनिक रीजन को लक्ष‍ित करने वाले प्राइमरों का उपयोग किया गया है जिन्हें रीयल टाइम पीसीआर का उपयोग करके डिजाइन और परीक्षण किया गया था. ये प्राइमर विशेष रूप से 400 से अधिक पूरी तरह से सिकुड़े हुए कोविड ​​-19 जीनोम के क्षेत्रों में बंधे हैं.

 

यह ICMR द्वारा अनुमोदित COVID-19 के लिए पहला जांच-मुक्त किट है और यह विशिष्ट और सस्ते उच्च परीक्षण के लिए उपयोगी होगा. इस किट को आसानी से बढ़ाया जा सकता है क्योंकि इसमें फ्लोरोसेंट जांच की आवश्यकता नहीं होती है. अब टीम बड़े पैमाने पर लक्ष्य बना रही है ताकि कम कीमतों पर ये किटें उपलब्ध कराई जा सकें.

Share on Facebook
Share on Twitter
Please reload